पर तोड़ने लगा सूरज शाम चढ़ने लगी सूरज।

शोर छोड़ेगा
तो तन्हाई पकड़ लेगी।
पानी में सभी तैरना सीखते हैं,

Float करना सीखिए।

पानी पर लेटकर देखा है कभी
डर का वजन डुबाता है।
जब डर निकल जाता है
शरीर तैरने लगता है।
ये तैरना उस तैरने से फर्क होता है
जो आपने सीखा है।

Advertisements

मुझे पैसा नहीं चाहिए, बस तेरी मेहरबानी चाहिए।

मुझे पैसा नहीं चाहिए…….

बीमारी जब भी आती थी तो खुदा इलाज के लिए कोई न कोई जुगाड़ कर ही देता था,
अब उधर भी सिस्टम अपडेट हो गया है वो पहले पैसा भेज देता है।

ज़िन्दगी के ज़रिये साल दर साल ऐसी सीख दी उसने,
अब एक शख्स है मेरे भीतर जो इबादत में दौलत को तव्वजो नहीं देता है।

मुझे पैसा नहीं चाहिए, बस तेरी मेहरबानी चाहिए।

“दौलत” के मायने कुछ और थे,

तू तो अन्तरयामी है तुझे तो समझना चाहिए ।

Blind date। छुअन से पता चला, हम कितने अन्धे रह गये न।।

“किस्स’ की ब्रेल* पढ़ी तुमने, बौरा गये न,
अब लबों पर नींद है आंखों में तुम समा गये न।”

Braille* लिपि
a system of printing for blind people, in which each letter is represented as araised pattern that can be read bytouching it with the fingers: