एक और सच्ची कहानी – अगली कडी

​किसी ने मुझसे पूछा कि डोगरा एस सी होते हैं।  मुझे अजीब नहीं लगा। मैने उन्हे कहा कि ‘डोगरा’ सिर्फ जाति नहीं है। डोगरा एक कम्युनिटी है जिसका मतलब है पहाड़ी कि तराई मे रहने वाले लोग। अब वो कोई भी हो सकता है। मेरा पूरा नाम राकेश कुमार डोगरा पिता का नाम स्व श्री हर प्रकाश लाल शर्मा ।  Any brahmin can write ‘Sharma’ as sir name. वैसे ही पहाड़ी की तराई में हि.प्र. में रहने वाले लोग किसी भी जाति के ये चलन है कि डोगरा as sirname इस्तेमाल करते हैं जैसे महाराष्ट्र में डोंगरे एक जाति है और डोंगर पहाड़ी के हिस्से का ही नाम है। हां लेकींन J & K में एसा नहीं है।
मैं छोटा था तो एक और मेरा दोस्त पढने में होशियार था । और वो घर पर आता था। एक दिन हम दोनो साथ पलंग पर बैठे थे। सुबह झाडू लगाने वाली आई। उसने उस लड़के को देखा । लड़के ने उसे । मुझे एसा लगा कि मानो एक ही नज़र मे लाखों सवाल उठे और गिरे। और जैसे हुआ भी कुछ नहीं। उस दिन के बाद से मुझे एसा महसूस हुआ कि वो मेरा दोस्त मुझे इग्नोर कर रहा है। और पता लगा वो स्कूल छोड़़ गया। 

कुछ दिन बाद जब मुझसे रहा नही गया तो मैने उस झाडू लगाने वाली से पूछा आपने उस मेरे दोस्त को कुछ कहा क्या। वो आजकल कहॉ है स्कूल तक छोड़ गया।  वो तपाक से बोली “और क्या करती, नीच कहीं का, साहब वो तवायफ का लड़का है मुझसे बर्दाश्त नहीं हुई मैने सुना दी। ये वही मेरा दोस्त था जिसको मैं गुरु कह कर पुकारता था जिसका नाम था मौहमद ।

ये भावना हर तब्के हर क्षेत्र में बर्पा है क्या। हीन भावना हमेशा अन्दर से आती है। विरोधाभासों मे भ्रम पैदा करो शक्तिशाली बाजी़ मार ले जाएगा। आदमी तो पेट से ही पैदा होता है फिर उसे इन्सान बनाने की प्रक्रिया शुरु होती है। लेकिन
यह सरल होना चाहिए पेचीदा करके रख दिया,
किसी को हिन्दू किसी को मुस्लमान बना के रख दिया।
सियासत ने चिराग के नाम पर,
नफरत का दिया जलाकर रख दिया।

शेष फिर कभी…….,..

Advertisements

One thought on “एक और सच्ची कहानी – अगली कडी

Leave a Reply

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out / Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out / Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out / Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out / Change )

Connecting to %s